Introducing Of Mundeshwari Temple

आज हमलोग Maa Mundeshwari Dham के चर्चित प्राचीन मंदिर के बारे में जानेंगे। जो कि कैमूर जिले के भभुआ सहर के पास स्थित है। इसके साथ साथ यहां जाने के लिए क्या साधन है कितना खर्च लगेगा ये सारी जानकारी हमलोग लेंगे।

Where Is Located Mundeshwari Dham Temple?Mundeshwari Dham Temple In India

यह mandir Bihar के Kaimur जिले में bhabhua city से 10 से 15 किलोमीटर के दूरी पर स्थित है।

Railway station bhabhua से आपलोगो को सबसे पहले bus stand जाना होगा जो की station से ₹10 देकर sharing bases पर आप बस स्टैंड जायेगे , bus stand आने के बाद आपको Maa Mundeshwari Dham के लिए bus मिल जायेगी जो की bus वाले आपसे ₹40 से ₹50 लेंगे इसके बाद आपको bhabhua City से गुजरते हुए bus आपको Mundeshwari Dham की ओर ले जायेगी आपको पहुंचने में लगभग 1 घंटा लग सकता है।

Mundeshwari Dham bus stand में बस खड़ी हो जायेगी, यहां से आपको पैदल यात्रा करना पड़ेगा और यह यात्रा लगभग 2 km का होगा।

सबसे पहले यहां से Maa Mundeshwari Dham की ओर जाओगे तो आपको पूरे रास्ते में मंदिर में चढ़ने का और पूजा करने का आपको पूरे रास्ते में एक कतार में मिल जाएगा आप यहां अपने अनुसार पूजा की थाली ले सकते है।

यहां मिलने वाले पूजा के थाली मे:

  • नारियल
  • मिठाईयां
  • चुनरी
  • दीप बत्ती
  • फूल

 

आगे बढ़ते ही आपको Maa Mundeshwari Dham की ऊंची चढ़ाव सुरु होगी , यह जो मंदिर है एक ऊंची पहाड़ के वादियों में पहाड़ के सबसे ऊपरी वाले हिस्सो पे बसा हैं ये मंदिर , इसलिए आपको ध्यान से चढ़ाव लेकर जानी है।

Mundeshwari Dham जाने वाले रास्ते में आपको सिर्फ पत्थर ही मिलेंगे , पर ऐसा नहीं की रास्ता खराब है रास्ता बिलकुल अच्छा है , बात है की ये रास्ता चढ़ाव का है इसलिए अगर आप थक जाते है तो बीच बीच में रुक कर अपनी यात्रा जारी रख सकते है।

यहां श्रद्धालू पैदल यात्रा के साथ साथ वाहन से भी जाते है , यहां वाहन जाने का भी मार्ग बना हुआ है , अगर आप अपने वाहन से आते हैं तो आपको ज्यादा चलने नही पड़ेंगे।

मंदिर के समीप जाने पर आपको वाहन खड़ी करने का साधन मिल जायेगी। जिनमे car, bike, कोई भी गाड़ी लगा सकते है।

इसके बाद आपको मुख द्वार जाते ही वहा भी आपको पूजा की थाली मिल जायेगी , यहां से सबको अपना चप्पल, जूता उतार कर ही मंदिर की आखिरी चढ़ाव करनी होती है , आपको यहां जूता, चप्पल रखने का stand भी मिल जायेगी।

यहां से आपको आखिरी चढ़ाव करते ही आपको मंदिर का और इसके साथ साथ तमाम दृश्य देखने को मिल जायेगी।

यहां का नियम यह है की मंदिर में प्रवेश करने से पहले आपको मंदिर का परिक्रमा किया जाता है , परिक्रमा की बात करे तो कोई 5 बार करता है तो कोई 7 बार इसका कोई फिक्स नही है , जिसका जैसी श्रद्धा और इच्छा वो अपने अनुसार अपने मन में Maa का नाम लेते हुए फेरी लगता है।

इसके बाद आपको Maa Mundeshwari Ji के main द्वार के अंदर प्रवेश करना है, प्रवेश करते हो आपको Maa Mundeshwari का चमत्कार का आभास होने लगेगा , आपका मन श्रद्धा से डूब जायेगा, यह मूर्ति के साथ साथ आपको दीवारों पर भी भगवान की अनोखी चित्र दिखाई देगी जो की देखकर आप भायुक होजाएगे।

इसके बाद आपको Maa Mundeshwari का सबसे सुनहरी पल में दर्शन होगी यहां आप मंदिर के पण्डित जी के मदद से अपना प्रसाद और फुल माला चढ़ाकर अपना मनोकामना पूर्ण कर सकते है।

यहां पूजा और दर्शन होने के बाद आपको बाहर आते ही मंदिर की पिछले हिस्से में आपको नारियल अर्पित करने का स्थान मिल जाएगा। यहां भोलेनाथ जी का शिवलिंग भी मिल जाएगा।

दर्शन करने के बाद आप अपने family के साथ photos ले सकते है जो की यहां से बेहद खूबसूरत नजारा दिखता हैं।

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *